Header Ads

banner image

समय पत्रिका का दिसंबर अंक पढ़ें या डाउनलोड करें

samay patrika december magazine issue
समय पत्रिका का दिसंबर अंक पढ़ें या फ्री में डाउनलोड करें.
समय पत्रिका में हम हर अंक में नया प्रयोग करने की कोशिश करते हैं। नयापन बेहतरी के लिए होता है, ताज़गी के लिए होता है। यह अंक भी उतने ही प्यार और उत्साह से पाठकों के बीच आया है। नयी किताबों की जानकारी सबसे पहले पहुंचाने वाली समय पत्रिका आपके सहयोग से आगे बढ़ रही है। इस अंक में हम बात कर रहे हैं साल की खास किताबों की, जिनमें यकीनन वे किताबें हैं जिन्हें खूब पसंद किया गया। कुछ ऐसी किताबें भी हम आपके लिए लाए हैं जो काफी चर्चा में रहीं। सबसे रोचक यह रहा कि कई नये युवा लेखक जबर्दस्त तरीके से चमके जिनमें बालेन्दु द्विवेदी और भगवंत अनमोल सबसे ऊपर रहे।

'मदारीपुर जंक्शन' ने जहां हमें मुस्कराने पर मजबूर किया, वहीं 'जिन्दगी 50-50' में हमें किन्नरों की जिन्दगी के भीतर झांकने का मौका मिला। 'सेपियन्स' जैसी किताब इस साल आयी सभी किताबों में सबसे दमदार कही जा सकती है। इसका हिन्दी अनुवाद बहुत लोकप्रिय हो रहा है। शशि थरुर की दो किताबों का हिन्दी में अनुवाद हुआ -'अन्धकार काल' और 'मैं हिन्दू क्यों हूं'। 'ग्यारहवीं-A के लड़के' ने हमें गौरव सोलंकी से मिलाया जिनकी कहानियों का अंदाज ही अलग है।

किताबों के लिए यह साल रंग-बिरंगा रहा। ऐसी कई किताबें आयीं जिन्हें आप अपनी अलमारी से कभी हटाना नहीं चाहेंगे।

अब तैयार रहें 2019 के लिए क्योंकि वहां भी रंग कम होने वाले नहीं!

इस अंक को ऑनलाइन पढ़ें या फ्री में डाउनलोड करें : https://www.readwhere.com/read/1931453/Samay-Patrika/Samay-Patrika-(December-2018-issue)#page/1

किताब ब्लॉग की वेबसाइट : kitab.samaypatrika.com