पहले दलित राष्ट्रपति के. आर. नारायणन

पहले-दलित-राष्ट्रपति-के-आर-नारायणन
के. आर. नारायणन भारत के दसवें राष्ट्रपति थे..

के. आर. नारायणन का पूरा नाम कोच्चेरिल रामन नारायणन है.

वे भारत के दसवें राष्ट्रपति थे.

नारायणन कई किलोमीटर पैदल चलकर स्कूल जाते थे.

उन्हें फीस न भरने के कारण प्रायः कक्षा से बाहर निकाल दिया जाता था.

नारायणन ने पत्रकार के तौर पर 'द हिन्दू' और 'द टाइम्स ऑफ़ इण्डिया' में कार्य किया.

वे जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के उपकुलपति रहे.

नारायणन ने लगातार तीन लोकसभा चुनाव 1984, 1989 और 1991 जीते.

25 जुलाई 1997 से 25 जुलाई 2002 तक नारायणन भारत के राष्ट्रपति रहे.

वे इकलौते ऐसे राष्ट्रपति रहे जो अपने कार्यकाल में किसी भी पूजा स्थल का दौरा नहीं किया.

'इण्डिया एण्ड अमेरिका एस्सेस इन अंडरस्टैडिंग', 'इमेजेस एण्ड इनसाइट्स' आदि पुस्तकें लिखीं.

सम्मान : वर्ल्ड स्टेट्समैन अवार्ड, 'डॉक्टर ऑफ़ साइंस, डॉक्टर ऑफ लॉस.

जन्म : 27 अक्टूबर, 1920 को केरल में हुआ था.

निधन : के. आर. नारायणन का निधन 9 नवम्बर 2005 को नई दिल्ली में हुआ.

जरुर पढ़ें : क्रांतिकारी पत्रकार : गणेश शंकर विद्यार्थी 

 -समय पत्रिका.  

समय पत्रिका के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें. 

इ-मेल पर हमसे संपर्क करें : gajrola@gmail.com
पहले दलित राष्ट्रपति के. आर. नारायणन पहले दलित राष्ट्रपति के. आर. नारायणन Reviewed by Harminder Singh on October 27, 2015 Rating: 5
Powered by Blogger.