Header Ads

banner image

चन्द्रधर शर्मा 'गुलेरी'

chandradhar-sharma-guleri

12 सितंबर 1922 को बनारस में चन्द्रधर शर्मा 'गुलेरी' का निधन हुआ था.

चंद्रधर शर्मा की कहानी 'उसने कहा था' को 2014 में 100 साल पूरे हुए.

10 वर्ष की उम्र में संस्कृत में भाषण देकर उन्होंने विद्वानों को चौंका दिया था.

गुलेरी ने सभी परीक्षाएं प्रथम श्रेणी में पास कीं.

संस्कृत, हिंदी, बांग्ला, पाली, प्राकृत, अंग्रेज़ी, फ्रैंच, लैटिन आदि भाषाओं का अच्छा ज्ञान था.

प्राचीन इतिहास और पुरातत्व गुलेरी का पसंदीदा विषय था.

उन्होंने कैप्टन गैरेट के साथ मिलकर 'द जयपुर ऑब्ज़रवेटरी एण्ड इट्स बिल्डर्स' नामक अंग्रेज़ी ग्रन्थ लिखा.

39 वर्ष की आयु में गुलेरी का निधन हो गया.

जन्म : 7 जुलाई, 1883 को पुरानी बस्ती जयपुर में चन्द्रधर शर्मा 'गुलेरी' का जन्म हुआ था.

-समय पत्रिका.  

समय पत्रिका के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें. 

इ-मेल पर हमसे संपर्क करें : gajrola@gmail.com